Search This Blog

प्रेमचंद साहित्य / कहानियां Premchand Stories / Kahaniyan

5 comments:

  1. कथा साहित्य के शास्त्रीय लेखक के रूप में स्थापित प्रेमचंद की कहानियाँ आज भी प्रसांगिक हैं |

    ReplyDelete
  2. हिंदि कहानी और उपन्यास साहित्य के केवल एक मात्र आधार संतभ प्रेमचंद हैं । यदि प्रेमचंद न होते तो साहित्य का विकास न होता ।

    ReplyDelete
  3. Premchand Hindi sahitya ke pita hai

    ReplyDelete
  4. Premchand Hindi sahitya ke pita hai

    ReplyDelete

Follow by Email